नवीनतम ---

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;96d273a4ebcc2d2820e13ef47799c6fc0d9dbdec175;250;11aae2c62276e698121c51a25c30434aa6bba6eb175;250;d437190293e5ca2ccf9ff3b907ef7ab2af1ccaba175;250;f3db07984eba370db7fa84600eb2579b0c6c8f28175;250;c4ea2453da816be49966055ab7379f322498c817175;250;4fa343a432b1d55e760240e2a5112ec2fd017d18175;250;49865e2f919844cb8b4168662de5c4ccf66998f7175;250;44deb7a1a3a780ab71de99cd790f01061be6bb27175;250;15c4549c12c6537b2bfb0a891e2f2d603b4f3460175;250;4462f44e8c51b2fe3332cd3562d2e5de04a93a76175;250;fb6121ddc91b9589d830afe1dd2e8a32a80cd508175;250;be22a9ae75ce1a42b152235db9ddf7a18c86d172175;250;4542637bd578e9a550d59313e8b245cc54f4f85f175;250;98af396ac4f6a5c825019349cb8d2a5c235a871e175;250;d7979d5b84da13314f39510eb5a250ea707f8371

जानकारी

पत्रिका घर में रखना हुआ मुश्किल

सम्पादक

लीना


Print Friendly and PDF

षड्यंत्र के तहत सदा से कलाकार को राजाश्रित बनाया गया

2014.07.22

क्योंकि सत्ता हमेशा कलाकार से डरती है

मंजुल भारद्वाज / सत्ता हमेशा कलाकार से डरती है चाहे वो सत्ता तानाशाह की हो या लोकतान्त्रिक व्यस्था वाली हो . तलवारों , तोपों या एटम बम का मुकाबला ये सत्ता कर सकती है पर कलाकार , रचनाकार , नाटककार , चित्रकार या सृजनात्मक कौशल से लबरेज़ व्यक्तित्व का नहीं, क्योंकि कलाकार मूलतः विद्रोही होता है , क्रांतिकारी होता है और सबसे अहम बात यह है कि उसकी कृति का जनमानस पर अद्भुत प्रभ…

Read more

मीडिया की राजनीति

2014.07.20

चुनाव की महत्ता समझते हुए बाजार ने मीडिया के जरिये सत्ता में पैठ बना ली है

अंशु शरण / तह-दर-तह इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में मौजूद लोगों की नीयत सामने आ रही है, मीडिया ने इस आम चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुये अपनी ताकत को आँका है और हाल के आचरण से लगता है कि अभी से ही विधान सभा चुनावों की तैयारियाँ शुरू कर दी हैं।…

Read more

पत्रकारिता में पुरानी है आत्मप्रवंचना की बीमारी ...!!

2014.07.17

तारकेश कुमार ओझा / भारतीय राजनीति के अमर सिंह और हाफिज सईद से मुलाकात करके चर्चा में आए वेद प्रताप वैदिक में भला क्या समानता हो सकती है ! लेकिन मुलाकात पर मचे बवंडर पर वैदिक जिस तरह सफाई दे रहे हैं, उससे मुझे अनायास ही अमर सिंह की याद हो आई। तब भारतीय राजनीति में अमर सिंह का जलवा था। संजय दत्त , जया प्रदा व मनोज तिवारी के साथ एक के बाद एक नामी - गिरामी सितारे समाजवादी पार्टी की शोभा बढ़ाते जा रहे थे। इस पर एक पत्रकार के सवाल के जवाब में अमर सिंह ने कहा था .... मेरे व्…

Read more

सज़ा के पात्र हैं वेद प्रताप वैदिक

2014.07.17

बी.पी. गौतम / भारत के सब से बड़े दुश्मनों में से एक हाफ़िज़ सईद से मिलने वाले पत्रकार वेद प्रताप वैदिक कई तरह की दलीलें दे रहे हैं, जो सब निरर्थक ही महसूस हो रही हैं। उनका कहना है कि वह साक्षात्कार लेने के उद्देश्य से हाफ़िज़ सईद से मिले, जबकि सोशल मीडिया पर जारी होने वाली विवादित तस्वीर से पहले उन्होंने हाफ़िज़ सईद का कोई साक्षात्कार नहीं लिखा और न ही उन्होंने मुलाक़ात को लेकर कहीं कोई चर्चा की, जिससे स्पष्ट है कि उनकी मुलाक़ात को एक पत्रकार की मुलाक़ात नहीं माना जा सकता।…

Read more

निजी एफएम रेडियो आकाशवाणी के समाचार ही प्रसारित कर पाएंगे

2014.07.16

तीसरे चरण में 30 मार्च 2015 तक 839 निजी एफएम चैनल खोले जाने हैं

नयी दिल्ली। निजी एफएम चैनलों को आकाशवाणी द्वारा प्रसारित समाचार को ही पुन: प्रसारित करने की इजाजत दी जाएगी। सरकार ने निजी एफएम रेडियो चैनलों की समाचार प्रसारण की अनुमति की मांग पर आज स्पष्ट किया कि रेडियो के विस्तार के तीसरे चरण के तहत निजी एफएम चैनलों को आकाशवाणी द्वारा प्रसारित समाचार को ही पुन: प्रसारित करने की इजाजत दी जाएगी, अन्…

Read more

Looking for a City Editor

2014.07.16

Mumbai / "A well known Established English newspaper published from Mumbai is looking for a City Editor. The ideal Candidate should have relevant experience of 5 to 10 years and must be familiar with city happenings. The successful candidate will lead a team of young energetic reporters and provide well–structured output of city news to be published in the paper.

The candidate must have excellent news judgment and high-level writing and editing skills, as well as be comfortable in making deci…

Read more

12 वीं प्रेस कौंसिल की सूची जारी

2014.07.14

प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने 12 वीं प्रेस कौंसिल की सूची जारी कर दी है।

कौंसिल के लिए मान्यता प्राप्त पत्रकार युनियनों और सम्पादक श्रेणी के एसोसिएसनों की सूची संलग्न है।

जिन पत्रकार यूनियनों और सम्पादकों के संगठनों को इस बार 12 व…

Read more

आज मीडिया में तथ्यों का अभाव है

2014.07.13

आपको कुल मिलाकर सत्तर के दशक के मध्य फिर फिर लौटना होगा…. , दरअसल ग्लोबीकरण के बाद बतौर पत्रकार हमारी गतिविधियां सत्ता के गलियारे से बाहर हैं और परें भी काट दी गयी हैं।

पलाश विश्वास। रिजर्व बैंक के जरिये ब्याजदर…

Read more

छात्रों से जुड़े हैं शिक्षकों के सपने : संजय

2014.07.12

गुरुपूर्णिमा के मौके पर एमसीयू में छात्रों ने साझा किए अपने सपने

भोपाल/ विद्यार्थियों के सपनों से ही शिक्षकों के सपने जुड़े होते हैं। विद्यार्थियों के सपने पूरे होते हैं तो सबसे अधिक प्रसन्नता और संतुष्टि शिक्षक को मिलती है। यह बात माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में जनसंचार विभाग के अध्यक्ष संजय द्विवेदी ने कही। उन्होंने गुरुपूर्णिमा के अवसर पर जनसंचार विभाग …

Read more

पूर्वोत्‍तर के लिए शुरू होगा 24x7 चैनल ‘’अरुण प्रभा’’

2014.07.10

बजट में घोषणा, हर भारतीय तक इंटरनेट की पहुंच बनाने के लिए शुरू किया जाएगा डिजिटल इंडिया कार्यक्रम, सामुदायिक रेडियो केंद्रों को बढ़ावा देने की नई योजना के लिए 100 करोड़ रूपए का प्रावधान

केन्‍द्रीय वित्‍त म…

Read more

करियर नहीं जीवन बनाने की सोचें: प्रो. कुठियाला

2014.07.10

एमसीयू के कुलपति का जनसंचार विभाग के विद्यार्थियों से संवाद कार्यक्रम

भोपाल। विद्यार्थी को करियर की चिंता नहीं करनी चाहिए बल्कि उसे जीवन बनाने के लिए चिंतन करना चाहिए। करियर तो साधन मात्र है। हमें जीवन का उद्देश्य तय करना चाहिए और उस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए करियर रूपी साधन का उपयोग करना चाहिए। यह बात माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय के…

Read more

रोचक हैं मीडिया पर केन्द्रित पत्रिकाओं के जून अंक

2014.07.09

जन मीडिया, समागम, मीडिया विमर्श, मीडिया रिलेशन

मंजीत आनंद / मीडिया पर केन्द्रित पत्रिकाओं का छपने का दौर जारी है। जहां वर्षों से मीडिया पर आधारित पत्रिकाएं छप रही हैं, वहीं इस सिलसिले में नये पत्रिकाओं का प्रकाशन भी शुरू हुआ है। जून माह में मीडिया पर आधारित पत्रिकाओं में अलग-अलग तेवर लिये हुए हस्तक्षेप किया है।…

Read more

आलेख और भी हैं --

View older posts »