Menu

 मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

अपने तेवर पर कायम जन मीडिया

संचार व पत्रकारिता के सही मायनों से रूबरू कराता, पूरी की दस साल की यात्रा

डॉ. लीना/ संचार और पत्रकारिता की शोध पत्रिका जन मीडिया ने अपने तेवर और सोच को बरकरार रखते हुए अपनी यात्रा के 10 साल पूरे कर लिये हैं । जन मीडिया का 120वां, मार्च 2022 का अंक संचार व पत्रकारिता पर विमर्श पर सार्थक सोच और पारदर्शिता के साथ है।…

Read more

सीरियस खबरें !

अजीत शाही/ पंद्रह साल पहले की बात है. एक न्यूज़ चैनल के मालिक ने मुझे काम पर रखा ये कह कर कि हम न्यूज़ कम कर पा रहे हैं ऊलजलूल ख़बरें ज़्यादा हैं, तुम ज़रा मदद कर दो सीरियस खबरों में. तीन चार हफ़्ते बाद एक स्ट्रिंगर ने एक रिपोर्ट भेजी: कुत्तों का श्मशान. खबर थी कि किसी शहर में कुत्तों का श्मशान है जहां लोग अपने पालतू कुत्ते का मरने के बाद अंतिम संस्कार करते हैं. मैंने कौतुहल के चलते वीडियो देखा तो उसमें पहला सीक्वेंस ये था कि एक हँसता-खेलता कुत्ता अपने मालिक के घर में ठिठोली कर र…

Read more

समकालीन भारत को समझने की कुंजी है ‘भारतबोध का नया समय’

आईआईएमसी के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी की नई पुस्तक

प्रो. कृपाशंकर चौबे/  जनसंचार के गंभीर अध्येता प्रो. संजय द्विवेदी की नई पुस्तक ‘भारतबोध का नया समय’ का पहला ही निबंध इसी शीर्षक से है। भारतबोध की समझ को स्पष्ट करने के लिए लेखक ने गांधी, धर्मपाल, लोहिया, वासुदेव शरण अग्रवाल, निर्मल वर्मा से लेकर रामविलास शर्मा के राष्ट्रबोध संबंधी चिंतन का अवलंबन लिया है। इस निबंध मे…

Read more

राजनीति का संदर्भ ग्रंथ है “लोकतंत्र का स्पंदन”

पत्रकार अभिमनोज की अभिनव पहल है उनकी यह पुस्तक

प्रदीप द्विवेदी / आधुनिक पत्रकारिता में समाचार विश्लेषक की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण हो गई है. प्रमुख राष्ट्रीय समाचार विश्लेषक और वरिष्ठ पत्रकार- अभिमनोज, पत्रकारिता में नए प्रयोगों के लिए प्रसिद्ध हैं. अभिमनोज की अभिनव पहल है उनकी पुस्तक....  लोकतंत्र का स्पंदन!…

Read more

अर्थशास्त्र शोध में मीमांसा का प्रयोग किया जा सकता है: प्रो. वाजपेयी

शोध में गरीबी उन्मूलन और कृषि सुधार पर बल देने ज़रूरत: तपन कुमार शान्डिल्य

पटना/ अर्थशास्त्री और अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर अरुण दिवाकर नाथ वाजपेयी ने कहा कि अर्थशास्त्र शोध में मीमांसा का प्रयोग किया जाता सकता है। प्रो. वाजपेयी  पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय स्नातकोत्तर अर्थशास्त्र विभाग और आईक्यूएसी कालेज आफ कामर्स द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित व…

Read more

नई शिक्षा नीति 2020 का मुख्य उद्देश्य चरित्र निर्माण और व्यक्तित्व विकास

कालेज आफ कामर्स, आर्ट्स एण्ड साइंस पटना में "राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन" विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

पटना/ कालेज आफ कामर्स आर्ट्स एण्ड साइंस पटना और शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास के संयुक्त तत्वावधान में रविवार को "राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन" विषय पर एक दिव…

Read more

रेडियो प्रसारण का निजीकरण

जन मीडिया का अक्टूबर, 2021 अंक

डॉ लीना/ संचार, माध्यम और पत्रकारिता की पूर्व समीक्षित मासिक पत्रिका जन मीडिया ने अपने खास अंदाज और तेवर के साथ अक्टूबर 2021 के अंक में कई महत्वपूर्ण विषयों को खंगालने का प्रयास किया है।…

Read more

मीडिया साहित्य की और रचनायेँ--

नवीनतम ---

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;cb150097774dfc51c84ab58ee179d7f15df4c524175;250;a6c926dbf8b18aa0e044d0470600e721879f830e175;250;5524ae0861b21601695565e291fc9a46a5aa01a6175;250;3f5d4c2c26b49398cdc34f19140db988cef92c8b175;250;53d28ccf11a5f2258dec2770c24682261b39a58a175;250;d01a50798db92480eb660ab52fc97aeff55267d1175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;cff38901a92ab320d4e4d127646582daa6fece06175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;c1ebe705c563d9355a96600af90f2e1cfdf6376b175;250;911552ca3470227404da93505e63ae3c95dd56dc175;250;752583747c426bd51be54809f98c69c3528f1038175;250;ed9c8dbad8ad7c9fe8d008636b633855ff50ea2c175;250;969799be449e2055f65c603896fb29f738656784175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974

पुरालेख--

सम्पादक

डॉ. लीना