Menu

 मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts : "feature General twitter whatsapp अपील अभियान आयोजन खबर गूगल से जानकारी टिप्पणी टीवी निंदा पत्रिका पुस्तक समीक्षा पुस्तिका फेसबुक से बहस मीडिया पुस्तक समीक्षा मुद्दा लोग विरोधस्वरूप पुरस्कार वापसी विविध खबरें वेकेंसी व्यंग्य शिक्षा श्रद्धांजलि संगीत संस्कृति संस्मरण सम्पर्क सम्‍मान साहित्य सिनेमा हिन्दी "

'सकारात्मक मीडिया' से होगा 'स्वर्णिम भारत' का निर्माण: प्रो. द्विवेदी

'पत्रकारों के तनाव प्रबंधन' पर ब्रह्माकुमारीज ने किया संगोष्ठी का आयोजन

नोएडा। भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी ने कहा है कि 'स्वर्ण…

Read more

पत्रकारिता की शक्ति को बताने वाली दस्तावेजी पुस्तक है ‘रतौना आन्दोलन : हिन्दू-मुस्लिम एकता का सेतुबंध’

लाजपत आहूजा के संपादन में इस पुस्तक को लिखा है, लेखक लोकेन्द्र सिंह, दीपक चौकसे और परेश उपाध्याय ने

डॉ. गजेन्द्र सिंह अवास्या/ …

Read more

कोविड-19 से जान गंवाने वाले 16 पत्रकारों के परिवारों को सरकारी सहायता मिलेगी

सरकार ने पत्रकार कल्याण योजना के तहत 7 पत्रकारों के साथ-साथ 35 पत्रकारों के परिवारों के लिए सहायता स्वीकृत की

नई दिल्ली/ …

Read more

समाज और संस्कृति का विमर्श है 'शुक्रवार संवाद': प्रो. सुरेश

आईआईएमसी द्वारा प्रकाशित पुस्तक 'शुक्रवार संवाद' का माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति ने किया विमोचन…

Read more

आईआईएमसी फिर देश का सर्वश्रेष्ठ मीडिया शिक्षण संस्थान

इंडिया टुडे के 'बेस्ट कॉलेज सर्वे' में मिला पहला स्थान

नई दिल्ली। देश की प्रतिष्ठित पत्रिका इंडिया टुडे के 'बेस्ट कॉलेज सर्वे' में भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी), नई दिल्ली को पत्रकारिता एव…

Read more

आईआईएमसी में प्रवेश के लिए आवेदन की तिथि बढ़ी

अब 4 जुलाई तक कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन

नई दिल्ली। भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) में पांच पीजी डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 18 जून से बढ़ाकर 4 जुलाई कर दी गई है। शैक्षणिक सत्र 2022…

Read more

भारतीय संविधान की अस्मिता को जानने-समझने की कोशिश

कोरोना काल के विषैले समय के वैचारिक मंथन से निकला ‘अमृत’ है यह पुस्तक

प्रो.संजय द्विवेदी / अपने देश को कम जानने की एक शास्वत समस्या तो अरसे से बनी ही हु…

Read more

प्रो. संजय द्विवेदी को 'टॉप रैंकर्स एक्सीलेंस अवॉर्ड'

भारतीय जन संचार संस्थान के महानिदेशक हैं प्रो. द्विवेदी

नई दिल्ली। भारतीय जन संचार संस्थान के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी को टॉप रैंकर्स मैनेजमेंट क्लब द्वारा मीडिया शिक्षण के क्षेत्र म…

Read more

पत्रकारिता से कई अपेक्षा रखती डॉ. अर्पण जैन 'अविचल' की पुस्तक 'पत्रकारिता और अपेक्षाएँ"

अनिता दीपक शर्मा / डॉ. अर्पण जैन 'अविचल' की पुस्तक 'पत्रकारिता और अपेक्षाएँ' अपने नाम को सार्थक करने के साथ-साथ पाठकों की अपेक्षाओं पर भी पूरी तरह खरी उतरी है। लेखन से ज्ञात हुआ कि पत्रकारिता का इतिहास और आज के समय की पत्रकारिता में ज़मीन-आसमान का अंतर आ चुका है। आज के समय…

Read more

खबरों के व्यापार में

डॉ अबरार मुल्तानी//

चूंकि हर व्यापार में

फ़ायदा ही मक़सद होता है

इसलिए खबरों के व्यापारियों

का भी खबरों से

बस फ़ायदा ही मक़…

Read more

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का मीडिया को एडवायजरी

ऑनलाइन सट्टेबाजी को बढ़ावा देने वाले विज्ञापन से बचें

नई दिल्ली/  सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने आज प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया को चेतावनी जारी की है, जिसमें ऑनलाइन सट्टेबाजी प्लेटफ…

Read more

पत्रकारिता में डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स में नामांकन प्रक्रिया शुरू

पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय की अंगीभूत इकाई कालेज आफॅ कामर्स आर्ट्स एण्ड साइंस, पटना में फार्म 25 जून तक भरे जा सकेंगे…

Read more

आत्मीयता से ओत-प्रोत स्मृतियां

पुस्तक समीक्षा/ प्रो. कृपाशंकर चौबे/ प्रो. संजय द्विवेदी की उदार लोकतांत्रिक चेतना का प्रमाण उनकी सद्यः प्रकाशित पुस्तक ‘न हन्यते’ है। ‘न हन्यते' पुस्तक में दिवंगत हुए परिचितों, महापुरुषों के प्रति आत्मीयता से ओत-प्रोत संस्मरण और स्मृति लेख …

Read more

'ए ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ पॉपुलर साइंस लिटरेचर इन मलयालम' पुस्तक का विमोचन

आईआईएमसी के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी ने किया विमोचन, आईआईएमसी, कोट्टायम के क्षेत्रीय निदेशक हैं पुस्तक के लेखक डॉ. अनिल कुमार वाडावतूर…

Read more

प्रतिष्ठित मीडिया संस्थानों में विद्यार्थियों का इंटर्न के लिए चयन

महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के मीडिया अध्ययन विभाग के 03 और विद्यार्थियों का इंटर्न दिल्ली और पटना के प्रतिष्ठित मीडिया संस्थानों में…

Read more

एक राष्ट्रवादी पत्रकार का यूं चले जाना!

सतीश पेडणेकरः स्मृति शेष

निरंजन परिहार/ आईएसआईएस की कुत्सित कामवृत्ति, दुर्दांत दानवी दीवानगी और बर्बर बंदिशों की बखिया उधेड़ता इस्लामिक स्टेट की असलियत से अंतर्मन को उद्वेलित कर देने वाला  लेखा-जोखा दुनिया के सामने रखनेवाले पत्रका…

Read more

हर अखबार लगभग एक जैसा खराब है!

विष्णु नागर। जिंदगी भर हिंदी पत्रकारिता की। हिंदी अखबारों का आज का मानसिक दिवालियापन, सरकार की जीहुजूरी, हिंदुत्व का प्रोपेगैंडा और हिंदी को विकलांग बनाने की साजिश सी इस भाषा के अखबारों तथा टीवी चैनलों पर दिखाई पड़ती है, वह व्यथित करती है। गोदी चैनल तो दिनरात नफरत की मशीनगन बने …

Read more

'मीडिया में है नए स्टार्टअप्स की जरुरत':हरिवंश

आईआईएमसी के 54वें दीक्षांत समारोह में बोले राज्यसभा के उपसभापति

नई दिल्ली। भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के 54वें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए राज्यसभा के उपसभापति…

Read more

डिजिटल मीडिया की जवाबदेही प्रिंट और इलेक्टोनिक से ज्यादा है: आनन्द कौशल

डिजिटल पत्रकारिता में भरपूर ईमानदारी हो तो हमारी खबरें समाज को दे सकती हैं निष्पक्ष नजरिया

पटना/ संपूर्ण क्रांति दिवस के अवसर पर राजधानी प…

Read more

मीडिया अध्ययन विभाग के 7 विद्यार्थियों का प्रशिक्षण शुरू

एमजीसीयूबी के विद्यार्थियों का जिलाधिकारी के मार्गदर्शन में मोतिहारी जिला प्रशासन के जनसम्पर्क कार्यालय के विभिन्न परियोजनाओं में चलेगा प्रशिक्षण…

Read more

20 blog posts

नवीनतम ---

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;cb150097774dfc51c84ab58ee179d7f15df4c524175;250;a6c926dbf8b18aa0e044d0470600e721879f830e175;250;5524ae0861b21601695565e291fc9a46a5aa01a6175;250;3f5d4c2c26b49398cdc34f19140db988cef92c8b175;250;53d28ccf11a5f2258dec2770c24682261b39a58a175;250;d01a50798db92480eb660ab52fc97aeff55267d1175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;cff38901a92ab320d4e4d127646582daa6fece06175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;c1ebe705c563d9355a96600af90f2e1cfdf6376b175;250;911552ca3470227404da93505e63ae3c95dd56dc175;250;752583747c426bd51be54809f98c69c3528f1038175;250;ed9c8dbad8ad7c9fe8d008636b633855ff50ea2c175;250;969799be449e2055f65c603896fb29f738656784175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974

पुरालेख--

सम्पादक

डॉ. लीना