Menu

 मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

Blog posts March 2018

वरिष्ठ पत्रकार मकबूल साहिल का निधन

श्रीनगर/ वरिष्ठ पत्रकार और जाने-माने लेखक मकबूल साहिल का दिल का दौरा पड़ने से कल शाम यहां निधन हो गया। श्रीनगर के बाहरी इलाके के लाल बाजार में अचेत होकर गिर गये श्री साहिल को अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।…

Read more

सुप्रीम कोर्ट ने शोभना भरतिया को सवा लाख रूपया हर्जाना ठोका

दैनिक हिन्दुस्तान फर्जी संस्करण और 200 करोड़ का सरकारी विज्ञापन घोटाला प्रकरण, सुनवाई की अगली तारीख 16 अप्रैल 2018 तय …

Read more

पीआईबी, पटना का गौरेया संरक्षण पर एकदिवसीय चित्र प्रदर्शनी का आयोजन

गौरेया संरक्षक संजय कुमार के गौरेया से संबंधित खीचीं गई तस्वीरों पर आधारित है यह चित्र प्रदर्शनी

पटना/ पत्र सूचना कार्यालय (पीआई…

Read more

डीडी पटना के पूर्व समाचार संपादक गुलाम मोहम्मद मुस्तफा का निधन

पटना/ भारतीय सूचना सेवा के वरिष्ठ अधिकारी और दूरदर्शन केन्द्र पटना के पूर्व समाचार संपादक गुलाम मोहम्मद मुस्तफा का लंबी बिमारी के बाद निधन हो गया। वह लगभग 73 वर्ष के थे। ब्लड कैंसर रोग के इलाज के लिए एक महीने से गुडग़ांव के मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती थे जहां आज उनका निधन हो गया । कल सोमवार क…

Read more

मुख्यधारा की मीडिया ने क्या दिखाया?

किसान आंदोलन और मीडिया की भूमिका

तनवीर जाफरी / किसानों, खेतीहर मज़दूरों तथा आदिवासियों द्वारा पिछले दिनों नासिक से शुरु हुआ पैदल किसान मार्च लगभग 180 किलोमीटर की यात्रा तय कर 12 मार्च को मुंबई पहुंचा। सूत्रों के अनुसार इस म…

Read more

समाजहित ही पत्रकारिता का धर्म: अजय कुमार

नोएडा/ जनता और शासन के बीच अगर कोई सेतु है, तो वह पत्रकार है। पत्रकार की आवश्यकता समाज को भी है और सरकार को भी। इसकी महत्ता कभी खत्म नहीं होगी क्योंकि समाज का विश्वास ही पत्रकार हैं। पत्रकार को कभी अपने मूल्यों से समझौता नहीं करना चाहिए, पत्रकारिता बगैर जज्बे के संभव नहीं है। यह कोई नौकरी …

Read more

गोरखपुर के नतीजे से 2019 का रिज़ल्ट निकाल दे रहे हैं!

राजनीतिक पत्रकार 

रवीश कुमार/ राजनीतिक पत्रकारों को कभी ठीक से समझ नहीं पाया। गोरखपुर में योगी की हार बड़ी घटना तो है लेकिन इस घटना में क्या इतना कुछ है कि चार चार दिनों तक सैंकड़ों पत्रकार लोग लिखने में लगे हैं। राजनीतिक पत्रकारों को ही सिस्टम को …

Read more

छोटे-मझोले अखबारी समूहों पर मंडराया संकट

नई दिल्ली /अखबारों की छपाई के लिए आयात किया जाने वाला कागज अब महंगा हो गया है। इसकी कीमतों में 40 फीसदी तक की बढ़ोतरी हुई है और यह 52 हजार रुपए प्रति टन तक पहुंच गई है, जबकि 6 महीने पहले तक इसकी कीमत करीब 37 हजार रुपए प्रति टन थी। इसके दाम आसमान पर पहुंच जाने के कारण छोटे-मझोले अखबार…

Read more

नए वेज बोर्ड का गठन और राष्ट्रीय पेंशन योजना की मांग

आल इंडिया न्यूज़पेपर एम्प्लाइज़ फेडरेशन नई दिल्ली की कार्यसमिति की 17 और 18 मार्च को बैठक

नागपुर/ आल इंडिया न्यूज़पेपर एम्प्लाइज़ फेडरेशन नई दिल्ली (एआईए…

Read more

'गाय’ का मंचन रोके जाने का विरोध

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के इशारे पर शाहजहांपुर जिला प्रशासन द्वारा ‘गाय’ नाटक के मंचन पर जिस तरह रोक लगाई गई, इस पर इप्टा, जसम, प्रलेस, जलेस, साझी दुनिया, अर्थ, अमिट, कलम, राही मासूम रज़ा एकेडमी आदि प्रगतिशील व जनवादी सांस्कृतिक संगठनों तथा लेखकों व कलाकारों ने अपना तीखा विरोध प्रकट…

Read more

पत्रकार के खिलाफ फिलहाल कोई कार्यवाही नहीं करने का आदेश

जयशाह मानहानि मामला

नयी दिल्ली/ उच्चतम न्यायालय ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के पुत्र जय शाह की ओर से दायर मानहानि मामले में वेबसाइट 'द वायर' के पत्रकार को 12 अप्रैल तक आज अंतरिम राहत प्रदान की। शीर्ष अदालत ने गुजरात की मजिस्ट्रेट अदालत को वेब पोर्…

Read more

ब्यूरो ऑफ आउटरीच से मानव संसाधन का होगा बेहतर इस्तेमाल

श्रीमती स्मृति जुबिन ईरानी ने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की सलाहकार समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए इसकी पूरी जानकारी दी…

Read more

सफल पत्रकार बनने के लिए बहुआयामी होना जरुरी: ब्रजेश कुमार सिंह

देशहित की पत्रकारिता सर्वोपरी: सईद अंसारी

नोएडा / माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, नोएडा परिसर में आयोजित “प्रतिभा उत्सव 2018” के उदघाटन सत्र में पत्रकारिता के विद्यार्थियों को संबोधित क…

Read more

एनयूजे के पूर्व अध्यक्ष के खिलाफ पुलिस में शिकायत

दिल्ली / नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट (एनयूजे) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रास बिहारी पर अवैध रूप से दिल्ली पत्रकार संघ के मुख्यालय पर कब्जा करने का आरोप लगा है। एनयूजे और दिल्ली पत्रकार संघ ने मामले की शिकायत दिल्ली के एक थाने में की है, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच-पड़ताल की। यह …

Read more

फोटो जर्नलिस्टों पर बरसा पुलिसया कहर

उन्होंने थप्पड़ मारते पुलिस वालों की खीची थी तस्वीर

नई दिल्ली/कुमोद कुमार/ दिल्ली के लाजपत-नगर में पुलिस द्वारा दो फोटो जर्नलिस्ट के साथ बदसलूकी का मामला सामने आया है। ये फोटो जर…

Read more

आज एंकर ने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को मौत के घाट उतार दिया!

कुमोद कुमार/ डीएनए वाले सुधीर चौधरी, रिपब्लिक टीवी वाले अर्णव गोस्वामी से भी आज आगे कोई निकला तो "आज-तक" न्यूज़ चैनल की "हल्ला बोल" शो करने वाला गेस्ट एंकर भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा। आज देश के बड़े मीडिया चैनल को टीआरपी के लिए मरते और बिकते देखा। जब एंकर कह रहा हो कि…

Read more

श्रीदेवी की मौत की कवरेज ने टीआरपी में किया उलटफेर

श्रीदेवी की मौत की कवरेज को लेकर टीवी न्यूज चैनलों की इस बार इतनी आलोचना हो गई थी कि सबको लग रहा था - कहीं सोशल मीडिया की ये आलोचना उनकी टीआरपी ना गिरा दे। लेकिन आज जैसे ही BARC की साप्ताहिक टीआरपी आई, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के दिग्गज हैरान रह गए। इतना बड़ा उलटफेर पिछले कई सालों में पहली बार देखा गया ह…

Read more

राष्ट्रीय मीडिया सेंटर में महिला पत्रकारों के बच्चों के लिए खुलेगा क्रेच

नयी दिल्ली / राष्ट्रीय मीडिया सेंटर में महिला पत्रकारों के बच्चों के लिए एक क्रेच खुलेगा जहां वे अपने छोटे बच्चों को दिन भर रख सकेंगी और बेफिक्र होकर अपना काम कर सकेंगी। खबर है कि श्रीमती स्मृति ईरानी ने महिला पत्रकारों की समस्या को देखते हुए इसतरह का केंद्र खोलने को मंजूरी दी ताकि…

Read more

मोबाइल मीडिया : प्रिंट मीडिया के लिए सवालिया निशान?

अभिमनोज/ प्रिंट मीडिया के हाथ से मीडिया की सत्ता की डोर छुटती जा रही है... पीएम नरेन्द्र मोदी की मोबाइल को लेकर भाजपाइयों को दी गई सलाह का भावार्थ तलाशेंगे तो यह बात साफ हो जाएगी कि मोबाइल मीडिया सारे मीडिया पर लगातार भारी पड़ता जा रहा है!…

Read more

रिपोर्टर नहीं, संपादक दोषी

प्रेमेंद्र मिश्र। एक आपत्तिजनक न्यूज़, वेब पोर्टल पर डालने को लेकर मेरे जिले के दो होनहार पत्रकार कानूनी पेंच झेल रहे हैं। पर क्या वाकई दोष उनका है ? क्या उनके न्यूज़ ग्रुप ने उन्हें वांछित ट्रेनिंग दी? उन्हें बताया गया कि क्या प्रकाशित करना है और क्या नही? और अगर उन्हो…

Read more

20 blog posts

नवीनतम ---

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;cff38901a92ab320d4e4d127646582daa6fece06175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;c1ebe705c563d9355a96600af90f2e1cfdf6376b175;250;911552ca3470227404da93505e63ae3c95dd56dc175;250;752583747c426bd51be54809f98c69c3528f1038175;250;ed9c8dbad8ad7c9fe8d008636b633855ff50ea2c175;250;969799be449e2055f65c603896fb29f738656784175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;7a01499da12456731dcb026f858719c5f5f76880175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ac66d262fc1ac411d7edd43c93329b0c4217e224175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974175;250;460bb56d8cde4cb9ead2d6bff378ed71b08f245d

पुरालेख--

सम्पादक

डॉ. लीना