Menu

 मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

बिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन के वेबसाइट का हुआ लोकार्पण

पटना। बिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन के वेबसाइट biharhindisahityasammelan.org  का 15 जनवरी को एक समारोह मे विधिवत लोकार्पण किया गया। लोकार्पण समारोह में सम्मेलन की परामर्श-दातृ समिति के अध्यक्ष तथा विश्वविद्यालय सेवा आयोग, बिहार के पूर्व अध्यक्ष प्रो शशि शेखर तिवारी ने साहित्य-समाज को सम्मेलन का वेबसाईट समर्पित किया तथा कहा कि यह बिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन के इतिहास मे एक महान दिवस है। आज यह दुनिया के साहित्य-संसार से सीधे जुड़ गया है। इसके माध्यम से अनेक महत्त्व के कार्य संपन्न होंगे।

सभा की अध्यक्षता करते हुए डा सुलभ ने कहा कि वेवसाइट पर  सम्मेलन से संबंधित सभी तथ्यों, उद्देश्य और नियमावली तथा उसके 96 वर्ष के संक्षिप्त इतिहास के साथ अद्यतन गतिविधियों की जानकारी उपलब्ध है। साइट खोलने पर सम्मेलन के आगामी आयोजनों की सूचना भी प्राप्त हो जायेगी।

 इस समारोह में सम्मेलन के प्रधानमंत्री आचार्य श्रीरंजन सूरिदेव, नृपेन्द्रनाथ गुप्त, पं शिवदत्त मिश्र, डा राम शोभित प्रसाद सिंह, डा शांति जैन, योगेन्द्र प्रसाद मिश्र, घमण्डी राम, डा नरेश पाण्डेय चकोर, डा सुखित वर्मा, रामनंदन पासवान, कृष्णरंजन सिंह, बच्चा ठाकुर, पं गणेश झा, सुधीर मधुकर, अभिजीत पाण्डेय, ज्ञानेश्वर शर्मा, डा नागेश्वर प्रसाद यादव, बुद्धदेव प्रसाद सिंह, नेहाल सिंह ‘निर्मल’ तथा नरेन्द्र देव समेत बड़ी संख्या में साहित्यसेवी व प्रबुद्धजन उपस्थित थे।

  

Go Back

Comment

नवीनतम ---

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;f5d815536b63996797d6b8e383b02fd9aa6e4c70175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;7a01499da12456731dcb026f858719c5f5f76880175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ac66d262fc1ac411d7edd43c93329b0c4217e224175;250;1549d7fbbceaf71116c7510fe348f01b25b8e746175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974175;250;460bb56d8cde4cb9ead2d6bff378ed71b08f245d

पुरालेख--

सम्पादक

डॉ. लीना