Menu

 मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

'अपनी धरती' का लोकार्पण

देवी नागरानी का सिन्धी कहानी संग्रह है 'अपनी धरती’

देवी नागरानी के सिन्धी कहानी संग्रह 'अपनी धरती का सिंधी दिवस, 12 अप्रैल को चाँदीबाई हिम्मत लाल मनसुखानी कॉलेज में लोकार्पण समारोह सम्पन्न हुआ। सिंधी दिवस एवं मुशाइरे के तौर पर सुबह 10.00 से 3.00 बजे तक इस कॉलेज में मनाया गया, जहां पर मुंबई महानगर व और स्थानों से पधारे सिंधी विध्वतजन व कविगन भी पधारे थे। संयुक्त तत्वधान में यह दिन अपनी एक खास पहचान बनाता चला जैसे-जैसे सम्मानित मेहमानों ने सिंधी भाषा, व साहित्य-संस्कृति पर बुनियादी बातों पर रोशनी पेश की और आज के दौर में सिंधी भाषियों के लिए कितनी महत्वपूर्ण है, इस कोण को उद्घाटित किया।

उपस्थित मुख्य मेहमान रहे संस्था के अध्यक्ष श्री किशू मनसुखानी, NCPSL के अध्यक्ष श्री निर्मल गोकलनी, मंजु निच्चानी(के. सी. कॉलेज की प्राध्यापिका), डॉ. दयाल आशा(महाराष्ट्रा सिन्धी अकाडमी के अध्यक्ष), श्रीमती काला प्रकाश, आशा चाँद (सिन्धी संगत की कर्ता-धर्ता), श्री अशोक कामदार, श्रीमती मीना रूपचंदानी, व इस कार्यक्रम की मुख्य संयोजक व संचालक श्रीमती संध्या कुंदनानी।   

अन्य मेहमानों में शामिल थे पूणा सिन्धी अदबी सभा के अध्यक्ष श्री गोवर्धन शर्मा ‘घायल’, श्री जेठो लालवानी, श्री नारायण भारती, लक्ष्मण दुबे, देवी नागरानी, अदीब होलराम हंस, दया लखी, श्री ज्ञानचंदानी, अन्य कई कविगण व श्रोतागण. समस्त कार्यक्रम के संचालन का भार श्रीमति संध्या कुंदनानी ने सँभाला। अंत में सभाग्रह में उपस्थित मेहमानों का आभार प्रकट किया।

 


Go Back

Comment

नवीनतम ---

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;f5d815536b63996797d6b8e383b02fd9aa6e4c70175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;7a01499da12456731dcb026f858719c5f5f76880175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ac66d262fc1ac411d7edd43c93329b0c4217e224175;250;1549d7fbbceaf71116c7510fe348f01b25b8e746175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974175;250;460bb56d8cde4cb9ead2d6bff378ed71b08f245d

पुरालेख--

सम्पादक

डॉ. लीना