Menu

 मीडियामोरचा

____________________________________पत्रकारिता के जनसरोकार

Print Friendly and PDF

दिनकर की कवितायें समाज को सही दिशा देने का काम करती हैं

बिहार फाउंडेशन मुंबई ने मनाई दिनकर जयंती, अभिनेता पंकज त्रिपाठी रहे मुख्य अतिथि

मुंबई /बिहार फाउंडेशन मुंबई की तरफ से मुंबई के बीकेसी स्थित निवेश आयुक्त कार्यालय सभागार में राष्ट्रकवि  रामधारी सिंह दिनकर जयंती का आयोजन किया गया।  कार्यक्रम का आयोजन दीप  प्रज्वलन कर किया गया।  बिहार फउंडेशन के मुख्य कार्यपालक अधिकारी एवं बिहार सरकार के निवेश आयुक्त रविशंकर श्रीवास्तव ने दिनकर जी के चित्र पर माल्यार्पण किया। अभिनेता पंकज त्रिपाठी एवं महाराष्ट्र मुख्यमंत्री की सलाहकार श्वेता शालिनी ने दिनकर जी को  पुष्प अर्पित किया।  बिहार फाउंडेशन मुंबई के नव नियुक्त चेयरमैन अभय कुमार ( वित्त निदेशक , डिपार्टमेंट ऑफ़ एटॉमिक एनर्जी ) ने स्वागत भाषण किया।  कार्यक्रम में आये अतिथियों सैयद सहजाद हुसैन ( आईएस ) , सुशील पोद्दार (कमिश्नर इन्कमटैक्स ) , नसीम आरसी( कमिश्नर कस्टम्स) ,  कृष्णा प्रकाश (आईपीएस , आई जी  महारष्ट्र पुलिस ) ,सुनील झा कमिश्नर इन्कमटैक्स , रतन कुमार पांडेय (एचओडी  हिंदी विभाग मुंबई वि वि ) ने दीप प्रज्वलित किया।  बिहार फाउंडेशन मुंबई के सचिव अहसान हुसैन ,कोऑर्डिनेटर  रणवीर एवं संयुक्त प्रवक्ता मनोज सिंह राजपूत ने पुष्पगुच्छ देकर सभी गणमान्य अतिथियों का स्वागत किया।

राष्ट्रकवि दिनकर के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए मुंबई वि वि के हिंदी विभाग के रतन कुमार पांडेय ने कहा कि दिनकर की कवितायें समाज को सही दिशा देने का काम करती हैं , युवाओं को अनुकरण करने एवं राज नेताओं को अनुसाहरण काने को कहा।  अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने  दिनकर जी की रचना  - ' कलम आज उनकी जय बोल "  सुनकर लोगो को रोमांचित किया।  उन्होंने कहा बिहार के एक छोटे से गांव से यहाँ तक पहुंचने में दिनकर जी की रचनाओं का महत्वपूर्ण योगदान है।  हमें भी अपने  युवा लोगों को दिनकर जी को पढ़ने के लिए प्रेरित करना चाहिए ,उनको दिनकर जी की रचनाएँ उपलब्ध करनी चाहिए  ।  वही मुंख्यमंत्री महाराष्ट्र की सलाहकार श्वेता शालिनी ने दिनकर की वीर रास की -  " याचना नहीं अब रण होगा  "कविता सुनकर सभी को प्रोत्साहित किया। कार्यक्रम में बिहारफॉउण्डेशन मुंबई कार्यकारी सदस्य शंकर केजरीवाल , विकाश वर्मा , बिहार उत्सव समिति के अनवर कमल एवं सुखदेव शर्मा , बिहारी शाहू समाज के राजू कुमार , , नम्रता कृष्णा , राजेश झा , राजू वर्मा , डॉ अनिल कुमार , डॉ, वशिष्ठ मिश्रा , वरिष्ठ पत्रकार  वज़ीहीद्दीन , नविन कुमार , मिथिला विकास प्रतिष्ठान के सुरेश झा , सरिता मिश्रा एवं मोहन झा के अलावा सैकड़ों गणमान्य लोग उपस्थित थे। 

Go Back

Comment

नवीनतम ---

View older posts »

पत्रिकाएँ--

175;250;cff38901a92ab320d4e4d127646582daa6fece06175;250;e3ef6eb4ddc24e5736d235ecbd68e454b88d5835175;250;25130fee77cc6a7d68ab2492a99ed430fdff47b0175;250;7e84be03d3977911d181e8b790a80e12e21ad58a175;250;c1ebe705c563d9355a96600af90f2e1cfdf6376b175;250;911552ca3470227404da93505e63ae3c95dd56dc175;250;752583747c426bd51be54809f98c69c3528f1038175;250;ed9c8dbad8ad7c9fe8d008636b633855ff50ea2c175;250;969799be449e2055f65c603896fb29f738656784175;250;1447481c47e48a70f350800c31fe70afa2064f36175;250;8f97282f7496d06983b1c3d7797207a8ccdd8b32175;250;3c7d93bd3e7e8cda784687a58432fadb638ea913175;250;7a01499da12456731dcb026f858719c5f5f76880175;250;0e451815591ddc160d4393274b2230309d15a30d175;250;ac66d262fc1ac411d7edd43c93329b0c4217e224175;250;ff955d24bb4dbc41f6dd219dff216082120fe5f0175;250;028e71a59fee3b0ded62867ae56ab899c41bd974175;250;460bb56d8cde4cb9ead2d6bff378ed71b08f245d

पुरालेख--

सम्पादक

डॉ. लीना